हिमालय में प्राकृतिक गैस की खोज करेगा ओएनजीसी

उत्तरकाशी,[शैलेंद्रगोदियाल]:तेलएंवप्राकृतिकगैसनिगम(ओएनजीसी)हिमालयीक्षेत्रमेंप्राकृतिकगैसऔरतेलकापतालगाएगी।इसकेलिएबाकायदासर्वेक्षणकाकार्यभीशुरूकरदियागयाहै।यहसर्वेउत्तराखंडकेअलावाहिमाचलप्रदेशमेंभीकियाजारहाहै।

सर्वेटीममेंशामिलमैकेनिकलइंजीनियरपूर्णसिंहनेबतायाकिओएनजीसीसर्वेकार्यमेंअल्फाजियोइंडियालि.काभीसहयोगलेरहीहै।यहकंपनीप्राकृतिकगैसऔरतेलकीसंभावनाओंवालेक्षेत्रोंकीतलाशकरतीहै।

उन्होंनेबतायाकिसर्वेक्षणसितंबर2016मेंकुमाऊंकेबागेश्वरसेशुरूकियागयाथा,जोजून2017तकचला।इसकेतहतबागेश्वरकेअलावापिथौरागढ़औरचमोलीकोभीकवरकियागया।अबइसवर्षसितंबरसेसर्वेक्षणकार्यरुद्रप्रयागकेतिलवाड़ाकस्बेसेआरंभकियागयाथा,जोअबउत्तरकाशीतकपहुंचचुकाहै।उन्होंनेबतायाकिउत्तराखंडमेंपहलीबारशुरूहुएइससर्वेक्षणसेप्राप्तडाटाकाविश्लेषणकियाजाएगा।

सर्वेक्षणकेतहतचिह्नितक्षेत्रमें20मीटरगहरेगड्ढेखोदेजारहेहैं।इनमेंएकविशेषमशीनलगाईजारहीहै।इसमशीनसेमिलेडाटाकोचिपमेंट्रांसफरकियाजारहाहै।इससेजल्दहीयहराजखुलजाएगाकिहिमालयकेगर्भमेंकौन-कौनसेपदार्थहैं।

इसकेअलावामशीनभूकंपकीदृष्टिसेअतिसंवेदनशीलमानेजानेवालेक्षेत्रमेंभूगर्भीयहलचलकोभीरिकार्डकररहीहै।उत्तरकाशीकेअपरजिलाधिकारीप्यारेलालशाहनेबतायाकिशासनसेमिलीअनुमतिकेबादयहसर्वेक्षणकरायाजारहाहै।

यहभीपढ़ें:अबसेंसरसे30सेकेंडपहलेमिलेगीभूकंपकीसूचना

यहभीपढ़ें:जीपीएसतकनीकसेपताचलेगाआनेवालाहैबड़ाभूकंप

यहभीपढें:यहांसिकुड़रहीहैधरती,कभीभीआसकताहैबड़ाभूकंप;जानिए